रविवार, 1 जून 2014

Sandeep Panwar's Life book May 2014 संदीप पवाँर की जीवनी- मई २०१४



JUNE माह में आने वाले मुख्य त्यौहार व अवकाश निम्न है।
JUN 12 SAVITRI POOJA
JUN 15 TRINITY SUNDAY
JUN 16 GURU ARJUN DEV MARTYRDOM
JUN 28 RAMJAN START
JUN 29 PURI RATH YATRA
JUN 29 SAINTS PETER AND PAUL
बीते माह मई 2014 में आपबीती का विवरण नीचे दिया है।



01

02
मथुरा से ज्ञानप्रकाश जी का फ़ोन आया कि संदीप भाई कहाँ तक पहुँच गये? यात्रा तो अगले सप्ताह है। गये नहीं हो तो अगले सप्ताह मैं भी आपके साथ जाऊँगा। ठीक है भाई, ऋषिकेश मिल जाना।
03

04

05
आज रात में दिल्ली वाले मामा के छोटॆ लडके की शादी है लेकिन मैंने रात की किसी भी शादी/ बारात में शामिल होना कई साल पहले छोड दिया है। अत: जाहिर है यहाँ भी जाना नहीं हुआ। अपने परिवार से छोटे भाई इस विवाह में शामिल हुए। मैं दिन में मामाजी के घर हाजिरी बजा आया था।
06
आज मामा के लडके का शादी के बाद वाला मण्डहा/ रिसेपसन है। शादी के पहले मन्डहा हुआ करता था आजकल शादी के बाद यह परम्परा शुरु हो गयी है। मैं सपरिवार गया। मेरे मामा के लडके के मामा का परिवार इस समारोह आया हुआ था। जो अपने घर जते समय किसी ऑटो वाले से उलझ बैठा। उन्होंने उस ऑटो वाले की जमकर ठुकाई की। वे तो चले गये। उसके बाद उस ऑटो वाले ने वहाँ खडी अन्य गाडियों पर पत्थर बाजी कर अपना गुस्सा निकाला। जिससे देहरादून से आये बडे मामा या मौसी की गाडी का शीशा टूट गया। उन्होंने पुलिस बुला ली। थाने जाकर रिपोर्ट लिखाने के लिये बिना शराब पिये बन्दों को तलाश गया। शादी में केवल दो बन्दे बिना पिये मिले। उसमें अपना नाम होना ही था। थाने जाकर रिपोर्ट लिखाने के चक्कर में रात के दो बजे जाकर घर वापिस आ पाये। अब से किसी के मण्डहे में जाना भी कैसिल रहेगा।
07
मथुरा से ज्ञानप्रकाश जी का फ़ोन आया कि संदीप जी इस बार जाना पक्का है कि नहीं, पक्का है भाई, आप ऋषिकेश मिल जाना, अगर साथ चलना है तो।
संतोष तिडके का महाराष्ट्र से फ़ोन आया कि जुलाई के पहले दिन हम बाइक पर आपके यहाँ पधार रहे है। बद्रीनाथ चलने को तैयार रहना।
08
बस अड्डे से गोपेश्वर की बस पकडनी है बीते वर्ष कश्मीरी गेट बस पर निर्माण कार्य होने की वजह से उत्तराखन्ड जाने वाली सभी बसे आनन्द विहार से जाने लगी थी। एक बन्दे को बस अडडे भेजकर पक्का कर लिया कि गढवाल जाने वाली बसे वही से जाती है।
09
आज रोहताश नारा जी का फ़ोन आया कहा कि रोहतक का रहने वाला हूँ गुडगाँव में कार्य करता हूँ आपके साथ एक यात्रा पर जाने की इच्छा है। मैंने तुरन्त कहा, कल गोपेश्वर जा रहा हूँ। अपनी खोपडी हर महीने घूमती है जब मन करे चल देना।
अजय भाई सरकारी काम से चण्डीगढ गये थे। बस अडडे से उन्होंने जानकारी ले ली कि गोपेश्वर की बस कश्मीरी गेट से ही जायेगी।
10
विशाल का बोम्बे से फ़ोन आया कि नीरज के साथ क्या पंगा हुआ है? कुछ नहीं हुआ। फ़ेसबुक पर हाँ भरने वालों की बात सच मानेगा तो ऐसा ही होगा। मैं पहले तो किसी की बात पर यकीन ही नहीं करता। उसके बाद कोई साथ जाने को तैयार होता है तो मुझे कोई परेशानी नहीं होती।
रात की बस में बैठकर उखीमठ के लिये प्रस्थान किया गया। मथुरा से ज्ञानप्रकाश जी ने बताया कि हम रात 10 बजे तक ऋषिकेश पहुँच जायेंगे। ठीक है मुझे अगस्तय मुनि की सीधी बस मिली है। इसलिये तुम भी वहाँ ऋषिकेश से सुबह वाली पहली बस में बैठ जाना।
11

दिल्ली से जो बस बस मिली थी वह अगस्तय मुनि तक की थी। वहाँ से उखीमठ के लिये जीप में बैठना पडा। उखीमठ पहुँचकर उनियाना वाली जीप में बैठने लगा तो जानकारी मिली कि मदमहेश्वर के कपाट खुलने से पहले गौंडार से आगे की इजाजत नहीं है। कुछ साल पहले केदारनाथ में कपाट होने के बाद चोरी हो गयी थी उसके बाद ऐसी रुकावट लगा दी गयी है। रात उखीमठ में ही ठहरना पडा।
12
रात को दिल्ली वापिस आने का इरादा बना लिया गया। इसलिये उखीमठ से हरिदवार की ओर जाने वाली पहली बस में बैठ गया। रात को 10 बजे तक दिल्ली पहुँच गया।
दिन में ज्ञानप्रकाश जी से बात हुई। उनके साथी कल ऋषिकेश ही रुक गये थे। मुझे वापसी आता देख, वे तीनों सुबह ही मनाली के लिये निकल गये। रात को वे मनाली पहुँच चुके थे। चलो ठीक है अगले माह फ़िर सही।
विशाल का फ़ोन आया कि संदीप भाई मनु जैसा कैमरा खरीद लिया है। चल भाई, अब लो फ़ोटोग्राफ़ी के मजे। कमाल यह रहा कि विशाल को वह कैमरा 20,000 रु में ही मिल गया।
13

कार्यालय पहुँचा। सभी आश्चर्य चकित थे कि एक सप्ताह के अवकाश के बावजूद एक दिन में वापसी क्यों? लेकिन टीवी के माध्यम से सबको पता था कि केदारनाथ में बर्फ़बारी के कारण मार्ग बन्द है। सब सोच रहे थे कि संदीप बर्फ़ में अटका हुआ होगा?
मनु प्रकाश त्यागी का फ़ोन आया कि संदीप भाई कहाँ तक पहुँच गये? डयुटी पर पहुँच गया। अरे आप तो दो दिन पहले केदारनाथ यात्रा पर गये थे। मार्ग बन्द है वापिस आना पडा। मनु बोला, मैं दिल्ली में हूँ। क्या करने आये हो? बाइक के लिये घुटने का सुरक्षा कवच नी पैड लेने आया हूँ मेरे लिये भी लेते आना। उसके बाद दिल्ली विश्वविधालय मैट्रो स्टेशन पर आ जाओ। मैं बाइक लेकर वही मिलता हूँ।
मेरे लिये रकसैक और फ़ोन्चू भी तो लेना है। कहाँ से लोगे? जहाँ से आप और राकेश ने लिया है। ठीक है आ जाओ। मनु के लिये भी ट्रेकिंग रकसैक व फ़ोन्चू भी ले लिया। वापसी में नानकसर में कचौडी खायी गयी। कचौडी खाते समय याद आया कि यहाँ मैं और अजय मौका मिलते ही कचौडी खाने टपक पडते है।
14

15
कल आम चुनाव (लोकसभा) के परिणाम आने है दिल में धुक-धुक हो रही है कि बीते दस साल से जारी घोटाले वाली सरकार जारी रहेगी या कुछ नया काम-काज देखने को भी मिलेगा।
16

भारत के इतिहास में पहली बार गैर कांग्रेसी दल के बहुमत की सरकार बनाने के लिये भारत की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को मोदी सरकार बनाने के लिये साफ़ संदेश दिया। खुशी हुई कि अबकी बार अपने परिवार के वोट भारत सरकार बनाने के काम आ गये। उम्मीद से कही ज्यादा सीटॆ आयी, जनता ने मोदी को छप्पर फ़ाड लेंटर तोड के वोट दी।
17
आज तक किसी भी भावी प्रधानमन्त्री का ऐसा शानदार स्वागत नहीं हुआ जितना भव्य स्वागत माननीय नरेन्द्र मोदी का हुआ।
18
आज मन्डौली में रहने वाले ब्लॉगर भाई सचिन त्यागी ने फ़ोन कर कहा कि संदीप भाई आज आपसे हर हालत में मिलना है। बताओ कहाँ आऊ? अजय भी सचिन से मिलने की कह चुका था अंत: अजय से बात की और कहा कि शाम को हम दोनों तुम्हारे पास आ रहे है।
शाम को तय समय पर सचिन के ठिकाने पर पहुँच गये। वहाँ जाते ही गन्ने का रस, आइसक्रीम मिला मैंगो शेक व जलेबी का स्वाद लिया गया।
सचिन के साथ यादगार मुलाकात के बाद घर चल दिये। चलते ही बाइक के पिछले पहिये में कुछ गडबड लगी। देखा तो बाइक के पिछले पहिये में एक बारीक नन्ही सी कील घुसी पायी। पेंचर वाले ने ट्यूब निकाली तो वालबोडी पर कट मिला। घर पर नई टयूब रखी थी इसलिये बिना टयूब डलवाये बाइक घर ले आया।
19
तिमारपुर में बनी नई सडक में गडडा होने के कारण एक बाइक वाला अपना संतुलन नहीं बना पाया जिससे उसे काफ़ी चोट आयी। उसे देख लेह वाली बाइक यात्रा का वो पल याद आ गया जब मेरी बाइक ब्लैक स्नो पर फ़िसल गयी थी।
शाम को राकेश का फ़ोन आया कि चलो भाया कही भी चलो, लेकिन मैं फ़िलहाल लम्बी यात्रा पर जाने का इच्छुक नही हूँ इसलिये इनकार करना पडा। राकेश धर्मशाला पहुँच गया।
20  
आज मनु भाई ने फ़ोन कर जोर का झटका दिया। तीन महीने पहले अन्डमान निकोबार आने-जाने के हवाई टिकट बुक किये थे। मनु ने बताया कि संदीप भाई आज गो एयर वालों का मैसेज आया है कि आपके टिकट रदद कर दिये है। आगे के टिकट ले लो, नहीं मिल रहे। एक साल बाद के ले लो। नहीं मान रहे।
21

22
आज कार्यालय में साथ काम करने वाले इन्द्रपाल जी को सुबह से बीपी हाई होने के कारण परेशानी हो रही थी। दोपहर करीब पौने एक बजे उन्हे जबरदस्त दिल का दौरा पडा। दो मिनट से भी कम समय में बेहोश होने के साथ-साथ चेहरा काला हो गया। पैर के तलवे पीले हो गये। एक डाक्टर ने जवाब देकर कह दिया कि अब इनमें कुछ नहीं बचा है। तभी एक युवा डाक्टर विकास धारीवाल जी ने उनकी छाती पर जोर-जोर से आठ-दस बार पम्प किया। पम्प करने से शरीर में अटके प्राण वापिस लौट आये। उन्हे तुरन्त कार में लेकर दिल्ली के मशहूर अस्पताल हिन्दू राव ले जाया गया। जिससे उनकी जान बच सकी।
23
कार्यालय के साथी का जीवन खतरे से बाहर है लेकिन उन्हे अभी ICU  में कई दिन बिताने होंगे।
24

25
बोम्बे वाले दोस्त विशाल के साथ श्रीखण्ड व लाहौल-स्पीति यात्रा के बारे में फ़ोन पर लम्बी बातचीत हुई।
26
आज भारत के पन्द्रवे प्रधानमन्त्री के रुप में नरेन्द्र दामोदर दास मोदी ने शपथ ली। देश की जनता ने मोदी को बहुमत के साथ विजयी बनाया है कुछ मुट्ठीभर विरोधी अपनी झुनझलाट देश के जनादेश के खिलाफ़ निकालने से बाज नहीं आ रहे है।

जयपुर वाले दोस्त विधान चन्द्र निजी गाडी से मनाली घूमने गये है।
27
अजय का फ़ोन आया और कहा कि भाई जी मैंने नीरज से बात कर ली है। चलो मिलकर आते है। खाने के लिये आम ले जाने पर बात हुई। कार्यालय के उपरांत नीरज के यहाँ गये। नीरज के पिताजी भी वहाँ मौजूद थे। उन्होंने देखते ही पहचान लिया। नीरज की माताजी के देहांत के बाद मनु के साथ उनके गाँव गया था। मैंने नीरज से कहा, तुम्हारे पिताजी को मेरा चेहरा याद था? नहीं मैंने उन्हे बताया था। मुरादनगर वाला मनु नहीं आया।
नीरज ने पहले तो रुअफ़्जा पिलाया। चलो नाश्ते में यह ही सही। जब काफ़ी देर तक हो गयी तो मैंगो शेक की बात आयी। नीरज ने मैंगो में ढेर सारे काजू व किशमिश भी मिक्स कर दिये। दो घन्टे की मुलाकात के बाद नीरज को उसके ठिकाने पर छोडकर अपने घर आ गए।
28
मनु ने एक अच्छी खबर सुनायी कि संदीप भाई अन्डमान निकोबार की हवाई यात्रा के चांस अभी समाप्त नहीं हुए है। अरे वाह। यात्रा की तिथि में बदलाव करना पडा। लेकिन टिकट कैंसिल नहीं हुए।

29


30
मनु ने फ़िर कहा संदीप भाई अब अन्डमान यात्रा 19 से लेकर 30 जून तक की जायेगी। कोई बात नहीं, मैं तो इसे रदद मान बैठा था।

आज अवकाश लेकर गाजियाबाद जाना पडा, लेकिन वहाँ जाकर पता लगा कि लोनी को तहसील बना देने के कारण SDM लोनी के नगर पालिका कार्यालय में ही बैठते है। इस बार शस्त्र नवीनीकरण में एक नई जाँच लेखपाल/अमीन की भी लेनी होगी। यह नया पंगा समझ नहीं आया।


31
नवीनीकरण के लिये लगने वाली मात्र 60 रुपये की फ़ीस जमा करने के लिये 22 किमी दूर गाजियाबाद ही जाना पडा।








7 टिप्‍पणियां:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति।
--
आपकी इस' प्रविष्टि् की चर्चा कल सोमवार (02-06-2014) को ""स्नेह के ये सारे शब्द" (चर्चा मंच 1631) पर भी होगी!
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक

SACHIN TYAGI ने कहा…

भाई आपसे मुलाकात तो शानदार रही पर कुछ फोटो भी खिचे थे वो कहा पर है,
आपका ओर अजय भाई का बहुत बहुत धन्यवाद मेरे यहा आने के लिए,काफी दिनो से आपसे मुलाकात की इक्छा थी पर हर बार कुछ न कुछ समस्या आ जाती थी,पर अब की बार मेरी किस्मत अच्छी निकली ओर आपके दर्शन हो गए,

Ritesh Gupta ने कहा…

बीच में कुछ डेट खाली क्यों है........ उस दिन कुछ नहीं किया क्या...

Sachin ने कहा…

bahut khoob..

Noor Mahal

Ajay Kumar ने कहा…

सँदीप भाई जी, नीरज कह रहा था.. फिर दोबारा आना, आपको वाटरमैलन शेक बना कर पियाऊँगा.. हाहाहा

संजय भास्‍कर ने कहा…

जय हो जाट देवता की

राजेश सहरावत ने कहा…

कहाँ कहाँ घूमने का प्रोग्राम है ? एक पोस्ट तो डाल ही दो ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...